सोमवार, 13 जनवरी 2014

ब्लड ग्रुप ए वालों को अधिक होता है गंजापन

एलोपेसिया यानी गंजापन केवल जीन के प्रभाव के कारण ही नहीं होता है बल्कि ब्लड ग्रुप ए के प्रभाव से भी होता है। प्लास्टिक सर्जन डॉ. तेजिंदर भट्टी ने अलग अलग ब्लड ग्रुप्स के ऊपर शोध किया जिसमें पता चला कि ए पॉजीटिव ब्लड ग्रुप के पुरुषों में बाकी ब्लड ग्रुप्स की तुलना में अधिक गंजापन होता है।

डॉ. भट्टी ने बताया कि मरीज पानी, शैंपू की क्वालिटी इत्यादि को गंजेपन का कारण मानते हैं इसके अलावा ब्लड ग्रुप भी उतना ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ए पॉजीटिव ब्लड ग्रुप के लोगों में बी विटामिंस खासतौर पर बायोटिन को ग्रहण(सोखने) की क्षमता कम होती है। जिसके कारण बालों की (मोटाई)थिकनेस कम होती जाती है। एक व्यक्ति के लिए 5 एमजी(mg) बायोटिन रोजाना लेना जरूरी होता है। बायोटिन की ठीक मात्रा शरीर में जाने से बालों की ग्रोथ और बढ़त नार्मल रहती है।

ज्यादातर पुरूष मेल पैट्रन बाल्डनेस के अधिक शिकार होते हैं तो उनमें ए पॉजीटिव ब्लड ग्रुप के पुरुषों में गंजेपन की संभावना अधिक हो जाती है। डॉ. भट्टी ने बताया कि 80 फीसदी केसों में गंजापन करने वाले जीनस मां की ओर से शरीर में आते हैं। अगर आपके नाना या मामा गंजे हैं तो आपके 80 फीसदी गंजे होने के आसार हैं। अद्भुत बात यह है कि मां खुद इस गंजेपन का शिकार नहीं होती है। सिर के आगे के हिस्से में एमपीबी जीनस जड़ों को प्रभावित करते हैं।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

 
Powered by Blogger